March 2014 archive

अधिनियम की मंशा को ठेंगा दिखाता राज्य सूचना आयोग

Sarokar

सूचना का अधिकार अधिनियम, २००५ की मूल मंशा जानकारियों तक नागरिक की पहुँच सुनिश्चित करना है। इस उद्देश्य के लिए अधिनियम में ‘सूचना आयोग’ जैसी वह स्वायत्त व्यवस्था भी गढ़ी गयी है जो, कागजों पर, शासन-तन्त्र के हस्तक्षेप से सर्वथा स्वतन्त्र है। लेकिन संकेत हैं कि म० प्र० राज्य सूचना आयोग ने ही अधिनियम का अन्तिम संस्कार करने की ठान ली है। Continue reading